लो ब्लड प्रेशर आते है चक्कर और बेहोशी

नई दिल्ली। लो रक्तचाप एक मेडीकल कंडीशन है, जिसमें किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर इतना कम हो जाता है कि वह चक्कर खाकर बेहोश भी हो सकता है।इसमें मतली, सुस्ती और धुंधली दृष्टि जैसी समस्या भी हो सकती है। आमतौर पर एक नॉर्मल ब्लड प्रेशर 120/80 एमएमएचजी होनी चाहिए, लेकिन जब ब्लड प्रेशर इससे भी कम हो जाए यानी 90/60 एमएमएचजी से भी नीचे चला जाए, तो इसे लो ब्लड प्रेशर कहेंगे।यह सेहत के लिए गंभीर भी हो सकता है।आप ब्लड प्रेशर को नॉर्मल बनाए रखने के लिए अपनी डाइट में कुछ फूड्स को ज़रूर शामिल करें.यदि आपका ब्लड प्रेशर सामान्य से भी कम रहता है, तो आप कैफीन का सेवन शुरू कर दें।इसके लिए जब भी आपको सीने में कोई तकलीफ महसूस हो, सांस लेने में समस्या हो या भारीपन महसूस हो, तो एक कप कॉफी या चाय पिएं।कैफीन रक्तचाप को बढ़ाता है।हालांकि, बहुत अधिक ब्लड प्रेशर लो हो जाए, तो डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करें।कोई भी खाद्य पदार्थ, चाय, कॉफी शारीरिक समस्याओं का स्थायी इलाज नहीं हो सकता है।ये बस लक्षणों को कम कर सकते हैं या फिर रोगों से बचाए रखने में कारगर हो सकते हैं.नमक का अधिक सेवन उन लोगों को मना किया जाता है, जिनका ब्लड प्रेशर बहुत ज्यादा रहता है, लेकिन कम ब्लड प्रेशर होने पर आप सोडियम को डाइट में शामिल करें। सीमित मात्रा में प्रतिदिन डाइट में सोडियम की मात्रा होनी चाहिए, ताकि ब्लड प्रेशर बढ़ सके।आपको प्रतिदिन कितनी मात्रा में सोडियम लेना चाहिए, इसके लिए डाइटिशियन या डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं।कई बार डिहाइड्रेशन के कारण भी अचानक से रक्तचाप को हो जाता है।ऐसे में ज़रूरी है दिन भर खुद को हाइड्रेटेड रखें।इसके लिए तरल पदार्थ का सेवन पर्याप्त मात्रा में करें।पानी पीने के साथ ही आप हेल्दी ड्रिंक्स जैसे जूस, आम का पन्ना, नारियल पानी, बेल का शरबत भी पी सकते हैं।यह लो ब्लड प्रेशर को नॉर्मल बनाने के लिए काफी आवश्यक होते हैं.इसके अलावा आप डाइट में फॉलिक एसिड और फोलेट युक्त फूड्स को भी शामिल कर सकते हैं।फोलेट और फॉलिक एसिड विटामिन बी के प्रकार हैं।फोलेट को आप नेचुरल खाद्य पदार्थों से प्राप्त कर सकते हैं, जबकि फॉलिक एसिड को सप्लीमेंट के रूप में ले सकते हैं।फोलेट रिच भरपूर फूड्स जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, ब्रोकली, राजमा, बादाम, मटर, अंडा, सोयाबीन, एवोकाडो, खट्टे फल, टमाटर, केला, पपीता, बीन्स, दालें आदि का सेवन कर सकते हैं। जिन लोगों को हाइपोटेंशन यानी निम्न रक्तचाप की समस्या रहती है, उन्हें छाछ का भी सेवन करना चाहिए। इसके स्वाद को बढ़ाने के लिए आप इसमें सेंधा नमक, भुना जीरा मिलाकर पी सकते हैं।इससे डिहाइड्रेशन से बचाव होगा, साथ ही लो ब्लड प्रेशर की समस्या भी दूर होगी।पेट की सेहत के लिए भी छाछ हेल्दी पेय पदार्थ है.प्रतिदिन एक टुकड़ा अदरक चबाने से सेहत को कई फायदे तो होंगे ही, ब्लड प्रेशर भी सामान्य रहेगा।इसके अलावा, आप दालचीनी पाउडर को गुनगुने पानी में मिलाकर भी पी सकते हैं।दूध के साथ खजूर का सेवन, प्रतिदिन किशमिश, टमाटर, गाजर आदि भी डाइट में शामिल करके ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाए रख सकते हैं।इन सभी खाद्य पदार्थों के सेवन से सेहत को कई अन्य लाभ भी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.