255 में से पांच का मौके पर ही निस्तारण

जौनपुर । शनिवार को तहसील मछलीशहर के सभागार में जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी ने बारी-बारी से शिकायते सुनी और सम्बन्धित अधिकारी को निस्तारण के निर्देश दिये।इस दौरान कुल 255 मामले आये जिसमें से 05 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया और शेष मामलों को सम्बन्धित विभाग को समयबद्व तरीके से निस्तारित करने के लिए सौप दिया गया। ग्राम मड़वा के राजपति बिंद ने जमीनी विवाद की शिकायत जिलाधिकारी से की जिस पर उन्हाने उप जिलाधिकारी राजेश कुमार को निर्देश दिया कि शीघ्र मामले का निस्तारण कराये। मोहल्ला पुरानी बाजार की रुक्मिणी पत्नी स्व0 मुकुन्दलाल ने प्रार्थना पत्र दिया कि उनका विधवा पेंशन नही बन पा रहा जिस पर जिला प्रोबेशन अधिकारी को तत्काल बनाये जाने के निर्देश दिये गये। ग्राम पं0 अमोध के अमरनाथ ने जमीन विवाद की शिकायत जिलाधिकारी से की जिस पर उन्होंने उपजिलाधिकारी को मौके पर जाकर विवाद को निस्तारित करने के निर्देश दिए। ग्राम चैथार के सतन ने पैमाइश में हीलाहवाली की शिकायत जिलाधिकारी के समक्ष की जिस पर आज ही टीम भेजकर पैमाइश कराकर आख्या देने का निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिये गए। जिलाधिकारी ने अधिकारियो को निर्देश दिया कि फरियादियों की शिकायतों का गुणवत्तापरक, समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि जनसमस्याओं का निस्तारण शासन की प्राथमिकताओं में है, इसलिए सभी अधिकारी रुचि लेकर गुणवत्तायुक्त ढंग से निस्तारण सुनिश्चित करे। इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नही होगी। भूमि संबंधी मामलों में राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीमें मौके पर जाकर गुणवत्तापरक निस्तारण करें। उन्होंने निर्देश दिया कि तालाब पर कब्जे की शिकायत मिलने पर जांच कर सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया जाये। पैमाइस के मामलों में जिस व्यक्ति ने सबसे पहले आवेदन किया है उसका पैमाइस पहले किया जाये। उन्होंने कहा कि यदि कोई सरकारी कर्मचारी से दुव्र्यवहार करता है तो उसे जेल भेजने की कार्यवाही कि जाये। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि पत्थरगडडी तोडने वाले को मुकदमा दर्ज कर जेल भेंजे। तहसील के बाहर बेसिक शिक्षा विभाग, कृषि विभाग, स्वयं सहायता समूह, सहित विभिन्न विभागों के द्वारा स्टाल लगाकर उनके विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्हें सुविधा का लाभ भी दिलाया। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 लक्ष्मी सिंह, तहसीलदार सुदर्शन कुमार, जिला विकास अधिकारी बी.बी सिंह, क्षेत्राधिकारी सहित अन्य जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.