संवैधानिक संस्थाओं पर कब्जा करके लोकतंत्र की हत्या कर विपक्ष की आवाज को दबाना चाहती है मोदी सरकार – कांग्रेस

लखनऊ।भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के आह्वान पर आज पूरे भारत देश में राहुल गांधी जी और प्रियंका गांधी जी के नेतृत्व में देश में बेतहाशा बढ़ी हुई महंगाई और चिंताजनक बेरोजगारी के खिलाफ आंदोलन किया गया। इसी क्रम में आज उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों में महंगाई एवं बेरोजगारी के खिलाफ आन्दोलन और पदमार्च किया गया। पदमार्च में शामिल नेताओं एवं कार्यकर्ताआं को सम्बोधित करते हुए विधायक विरेन्द्र चैधरी ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि डबल इंजन की सरकार ने पिछले आठ वर्षों में यूपी को पीछे धकेल दिया है। उत्तर प्रदेश में बेरोजगारी और महंगाई चरम पर है। पर देश की मोदी सरकार और उ0प्र0 की योगी सरकार सिर्फ जनता का ध्यान भटकाने के लिए और आपसी भाईचारे को खत्म करने के लिए काम कर रही है। मगर हम सरकार को सफल नहीं होने देंगे और जनता के बीच जाकर सरकार को बेनकाब करेंगे।
उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार एक तानाशाही सरकार है। जिसने देश की संवैधानिक और विधिक संस्थाओं पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया है। इन विधिक संस्थाओं के संरक्षण में ही विपक्ष और जनता की आवाज मजबूत होती है, लोकतंत्र मजबूत रहता है। मगर मोदी सरकार में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। कांग्रेस के नेताओं को ईडी का डर दिखाया जा रहा है और जनता के मुद्दों पर आंदोलन करने से रोका जा रहा है। मगर कांग्रेस डरने वाली नहीं है। कांग्रेस लोकतंत्र और जनता के हितों के लिए लगातार संघर्ष करती आ रही है और आगे भी करती रहेगी। लोकतंत्र की रक्षा, देश में आपसी भाईचारा और जनता के हितों की रक्षा के लिए गांधी परिवार ने शहादत दी है। गांधी परिवार एक परिवार नहीं बल्कि एक विचारधारा है जिसको देश में करोड़ों लोग अपनाए हुए हैं। लोकतंत्र और जनता के हितों की रक्षा के लिए राहुल गांधी जी एवं प्रियंका गांधी जी के पूर्वजों ने शहादत दी है। आज देश में बेतहाशा महंगाई है जो कि गलत जीएसटी की वजह से है। सरकारी उपक्रम बिक रहे हैं। देश में चिंताजनक बेरोजगारी है। जिसके खिलाफ कांग्रेस देशव्यापी आंदोलन कर रही है।उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता संजय सिंह ने बताया कि बेतहाशा महंगाई, चिंताजनक बेरोजगारी और जनता को लूटने वाली जीएसटी के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन के तहत आज उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने भी राजभवन तक मार्च किया। जिसे बर्बरतापूर्वक जनता विरोधी योगी सरकार ने रोकने का प्रयास किया और सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर इको गार्डन भेज दिया।प्रदर्शन में विधायक विरेन्द्र चैधरी, पूर्व सांसद मो मुकीम, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, सतीश अजमानी, अम्बिका सिंह, दीपक सिंह, नकुल दुबे, दिनेश सिंह, द्विजेन्द्र त्रिपाठी, ओमकार नाथ सिंह, विरेन्द्र मदान, प्रमोद पाण्डेय, अषोक सिंह, कृष्णकांत पाण्डेय, प्रमोद सिंह, रमेश मिश्रा, सम्पूर्णानंद मिश्रा, डा0 रेहान अहमद खान, सुबोध श्रीवास्तव, अनिल यादव, मनोज तिवारी, संजय सिंह, वेद प्रकाश त्रिपाठी, अजय श्रीवास्तव अज्जू, दिलप्रीत सिंह डीपी, प्रदीप सिंह, डॉ0 उमा शंकर पाण्डेय, संजय शर्मा, धीरेन्द्र सिंह धीरू, अमरनाथ अग्रवाल, प्रज्ञा सिंह, फिरोज अहमद, नरेश बाल्मीकि, पंकज तिवारी, बृजेन्द्र सिंह, आशुतोष मिश्रा, नईम सिद्दीकी, शिव पाण्डेय, विजय बहादुर, सुभाष मिश्र, अनुराग दीक्षित, एफ ए एस चर्चिल, पिन्टू शुक्ला, नीरज तिवारी, राकेश पाण्डेय, प्रदीप कनौजिया, शहनवाज मंगल, नरेन्द्र गौतम, मुन्ना लाल भारती, डॉ0 शहजाद आलम, वंशीधर मिश्रा, अर्चना राठौर, रूद्र दमन सिंह, आशीष दीक्षित, रफत फातिमा, प्रियंका गुप्ता, विषाल सिंह राजपूत, तरूण पटेल, सोमेश सिंह चैहान, शीला मिश्रा, सुशीला शर्मा, विभा त्रिपाठी, शहाना सिद्दीकी, किरन शर्मा, चन्द्रषेखर मिश्रा, इरशाद अली, पुष्पेन्द्र श्रीवास्तव, मनोज यादव, विक्रम पाण्डेय, अनस रहमान, आलोक सिंह रैकवार, राहुल अवस्थी, राजीव चन्द्र मिश्रा, अखिलेश श्रीवास्तव, सरलेश रावत, गोविन्द सिंह, विषम सिंह, रविन्द्र गिरि, संजय श्रीवास्तव, ज्ञान प्रकाश राय, सलोनी केसरवानी, सुधा मिश्रा, जितेन्द्र वर्मा, कुलदीप चैधरी, संदीप धनगर, आकाश तिवारी, आदित्य चैधरी, हमाम वहीद, भीष्म कुमार अन्नू, अंकित सक्सेना, विश्वजीत सिंह, शोएब खान, सहित कांग्रेस के तमाम नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे। राजेश सिंह काली, सहित कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेताओं को हाउस अरेस्ट भी किया गया।उ0प्र0 कांग्रेस ने आज का आन्दोलन प्रत्येक जिले में किया। जनपद वाराणसी में पूर्व सांसद राजेश मिश्रा एवं पूर्व विधायक अजय राय के नेतृत्व में महंगाई एवं बेरोजगारी के खिलाफ पदयात्रा निकाली गयी। सुल्तानपुर में पूर्व मंत्री मुईद अहमद, लाल पदमाकर सिंह के नेतृत्व में आंदोलन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.