सीडीओ ने की जल जीवन मिशन के योजनाओं की समीक्षा

देवरिया। मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा जल जीवन मिशन के योजनाओं की गुगल मीट के माध्यम से समीक्षा की गयी। अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा अवगत कराया गया कि मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा0लि0217 नग परियोजनाओं का कार्य प्रारम्भ करा दिया है, जिसमें शिरोपरि जलाशय 87 नग का कार्य प्रगति पर है 553 कि0मी0पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 11001 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं। इसी तरह मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि० द्वारा 155 नग परियोजना का कार्य प्रारम्भ कराया गया है, जिसमें शिरोपरि जलाशय 16 नग का कार्य प्रगति पर है, 301 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 6663 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं।मुख्य विकास अधिकारी ने दोनों फर्मों के धीमी प्रगति होने के कारण नाराजगी व्यक्त करते हुए  कडे निर्देश दिये गये है कि 40 ट्यूबवेल का कार्य व मे० एली०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को FHTC 3000 नग, मे० गायत्री प्राजेक्ट लिO FHTC 2000 नग कनेक्शन की प्रगति को 10 दिवस के अन्दर बढायें। प्रोजेक्ट मैनजर अनिल कुमार यादव व रामानुज तिवारी को निर्देश दिये गये है कि जितनी योजनाओं का SLSSC Approved हो गया है उसको तत्काल ट्राई पार्टी एग्रीमेन्ट डी०पीआर०ओ० के कार्यालय में जमा करायें। जनपद देवरिया में कार्यरत 7 आई०एस०ए० (इम्प्लीमेन्ट सपोर्ट एजेन्सी) जिसमें कुमुद फाउण्डेशन के आवंटित ग्राम पंचायतों की संख्या 114 है जबकि 80 ग्रामों में व मानव उत्थान के आंवटित ग्राम पंचायतों की संख्या 117 है जो कि 130 ग्रामों में खाते खुलवाये गये है जो कम है। ग्रामवासियों से केपेक्स एकाउण्ट कम होने के कारण नाराजगी व्यक्त करते हुए इसे बढ़ाने के निर्देश उन्होंने दिये गये। इस धीमी प्रगति होने के कारण दोनो फर्मों को अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा नोटिस देने का निर्देश दिये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.