50000 का इनामी दुर्दांत अपराधी गिरफ्तार

सकलडीहा। पुराने जमाने में एक कहावत जरूर सुनी होगी कानून के हाथ बड़े लंबे होते हैं इस कहावत को बुधवार की रात सकलडीहा कोतवाली पुलिस ने साबित कर दिया।बुधवार की रात सकलडीहा कोतवाली पुलिस के गश्त के दौरान कोतवाली पुलिस को उस समय एक बड़ी सफलता मिली जब रात्रि गश्त व तलाश के दौरान जरिए मुखबिर खास की सूचना पर दुर्दांत अपराधी व 50,000 का पुलिस इनामिया को हल्की मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। जानकारी के अनुसार जनपद में पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर लगातार अपराधियों के खिलाफ करवाई की जा रही है वही प्रभारी निरीक्षक सकलडीहा विनोद मिश्रा को बुधवार की रात्रि गश्त के दौरान मुखबिर खास के माध्यम से सूचना मिली की 2016 में जमीन खरीदने के पैसे के वापसी को लेकर कोतवाली क्षेत्र के महेश सिंह निवासी ग्राम अमावल(मड़ई) थाना सकलडीहा,  गांव में गोली मारकर हत्यारोपी मच्छेन्दर उर्फ संतोष भारती पुत्र शंकर राम निवासी टांडा कला, थाना बलुआ जनपद चंदौली अपने रिश्तेदार के यहां जा रहा है ।जिस पर प्रभारी निरीक्षक विनोद मिश्रा व चौकी प्रभारी डेढ़ावल भैरव नाथ यादव मय टीम मुखबिर खास की सूचना के आधार पर धरहरा मडई जाने वाले तिराहे के पास नाकाबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया उसी रास्ते पर एक मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति को टॉर्च की रोशनी दिखाकर पुलिस द्वारा रुकने का इशारा किया गया जिस पर व्यक्ति ने अपने मोटरसाइकिल की स्पीड बढ़ा कर भागने का प्रयास किया और कुछ दूर पर मोटरसाइकिल लेकर गिर गया। और पुलिस टीम को अपने पास आते देख   अपने अवैध असलहे से फायरिंग कर दिया जिससे प्रभारी निरीक्षक सकलडीहा विनोद कुमार मिश्रा के दाहिने हाथ में चोट लगी वहीं पुलिस टीम ने बहादुरी का परिचय देते हुए दुर्दांत अपराधी को घेरकर पकड़ लिया पुलिसिया पूछताछ में व्यक्ति ने अपना परिचय  मच्छेन्दर उर्फ संतोष भारती बताया। मच्छर धुप संतोष भारती ने बताया कि वह अपने रिश्तेदार  के यहां धरहरा जा रहा था। उसने पुलिस को आगे बताया कि 2016 में थाना सकलडीहा अंतर्गत ग्राम अमावल निवासी महेश सिंह को जमीन के लिए ₹60000 दिया हुआ था लेकिन महेश सिंह द्वारा न तो जमीन दी गई और ना ही मेरा पैसा वापस किया जा रहा था बार-बार पैसा मांगे जाने पर महेश सिंह द्वारा गाली-गलौज एवं पैसा वापस न करने की धमकी दी जा रही थी जिससे अजीज आकर मैंने उनके गांव धरहरा मड़ई जाकर गोली मारकर हत्या कर दी थी।उसने पुलिस को आगे बताया कि विगत दिनों पूर्व कोतवाली अंतर्गत ग्रामसभा टिमिलपूरा में घर का ताला तोड़कर गहने और पैसों की चोरी भी किया है अपने भरण-पोषण के लिए मैं अक्सर चोरी किया करता हूं पुलिस को मच्छेन्दर उर्फ संतोष भारती के पास से एक अदद अवैध तमंचा 315 बोर, एक आदद खोखा कारतूस 315 बोर, 1835 नगद व एक अलग सीडी डीलक्स मोटरसाइकिल बरामद हुई है पुलिस ने मच्छेन्दर उर्फ संतोष भारती का अपराधिक इतिहास बताते हुए बताया कि यह जनपद मिर्जापुर  में भी संगीन अपराधों में संलिप्त है ।वहीं पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल ने पूरी टीम को बधाई दी एवं प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा को ₹10000 का नगद पुरस्कार देकर प्रोत्साहित किया। गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा डेढ़ावल चौकी प्रभारी भैरवनाथ यादव, हे० का०दिनेश कुमार, कांस्टेबल राहुल तिवारी, सत्येंद्र कुमार, पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.