नवाब मलिक ने डिसूजा और एनसीबी अधिकारी के बीच फोन वार्ता का ऑडियो जारी किया, मचा हड़कंप

मुंबई । मुंबई के क्रूज में ड्रग्स मामले में एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर लगातार हमलावर महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने एक ऑडियो जारी कर हड़कंप मचा दिया है। नवाब मलिक ने अपने ट्विटर पर सैनविल स्टेनली डिसूजा और एनसीबी अधिकारी के बीच हुई फोन पर बातचीत का ऑडियो जारी कर दिया है, जिसमें दोनों के बीच क्या खिचड़ी पकी, उसका पूरा चिट्ठा है। मलिक ने सैनविल डिसूजा की तस्वीर के साथ यह ऑडियो जारी किया है। नवाब मलिक का दावा है कि इस वायरल ऑडियो में एनसीबी अधिकारी का नाम वीवी सिंह हैं और दूसरी ओर बात करने वाला सैनविल स्टेनली डिसूजा।नवाब मलिक द्वारा जारी ऑडियो में सुना जा सकता है कि सैनविल डिसूजा एनसीबी अधिकारी वीवी सिंह को फोन करता है और अपना परिचय देता है। वह फोन पर कहता है कि वह सैनविल बोल रहा है। इस पर एनसीबी अधिकारी वीवी सिंह कहते हैं- ‘कौन सैनविल? इसके बाद सैनविल बताता है कि मैं वही हूं, जिसके घर पर आपने नोटिस दिया था, मुझे पता चला। नोटिस की बात सुन वीवी सिंह को याद आ जाता है और कहते हैं- अच्छा…अच्छा… सैनविल… तू बांद्रा में रहता है न? सेनविल कब आ रहा है तू। इस पर सेनविल जवाब देता है कि मैं अभी मुंबई नहीं पहुंचा हूं, मेरी तबीयत भी ठीक नहीं है।’नवाब मलिक द्वारा जारी ऑडियो में इसके बाद सुना जा सकता है कि एनसीबी अधिकारी वीवी सिंह पूछते हैं, ‘फिर कब आ रहा है तू। तो सैनविल का जवाब होता है कि वह सोमवार को आएगा। इस पर अधिकारी ने कहा कि सोमवार को नहीं, बुधवार का आ जाओ। सोमवार को मैं नहीं हूं और अपना ये फोन लेकर आना, मुझे कोई हरकत नहीं चाहिए। ऑल रेडी तेरा आईएमईआई नंबर है मेरे पास। मैं तुम्हें वार्न कर रहा हूं। इसके बाद सैनिवल कहता है कि मैं ऐसा कोई काम नहीं करूंगा। ठीक है सर।’ नवाब मलिक ने सैनिवल को जारी नोटिस भी साझा किया है, जिसमें उसका पूरा नाम सैनविल स्टेनली डीसूजा लिखा हुआ है। इस बीच आज नवाब मलिक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करने वाले हैं। बता दें कि 2 अक्टूबर को मुंबई क्रूज पर छापेमारी हुई थी और तीन अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था। ड्रग मामले में आर्यन को छोड़ने के एवज में एनसीबी को भुगतान के आरोपों के संबंध में डिसूजा का नाम सामने आया था। दरअसल, किरण गोसावी के कथित रूप से बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर साइल ने अपने हलफनामे में दावा किया था कि उसने किरण गोसावी को किसी सैम डिसूजा से बात करते सुना था। जिसमें आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपए लेने की बात कही जा रही थी। बाद में यह मामला 18 करोड़ रुपए में सेटल करने की बात हुई, जिसमें से 8 करोड़ रुपए समीर वानखेड़े को दिए जाने थे। आरोप लगाने के बाद एनसीबी गवाह प्रभाकर साइल ने मीडिया को सैम डिसूजा की तस्वीर भी दिखाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.