इस्लामिया व पुरातन तरौंहा विद्यालय पहुंचे डीएम

चित्रकूट। जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने मंगलवार को इस्लामिया प्राथमिक विद्यालय व कम्पोजिट विद्यालय तरौहा का औचक निरीक्षण कर जानकारी की। यह स्कूल शहरी क्षेत्र में आता है। जिसको मॉडल के रूप में कायाकल्प किया जाना है। ग्रामीण क्षेत्र में यह 2019 से ही प्रारंभ हो गया था। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजीव रंजन मिश्र ने बताया कि इस्लामिया प्राथमिक विद्यालय तरौहा में 114 बच्चे हैं। यहां पांच कक्ष है। जिसमें एक जूनियर को सहायक के रूप में लगाया गया है। दो शिक्षामित्र हैं। यह विद्यालय शिक्षकविहीन है। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने कम्पोजिट विद्यालय तरौहा नगर क्षेत्र को भी देखा। विद्यालय की इंचार्ज प्रधानाचार्य शहनाज बेगम ने बताया कि दो टीचर और एक शिक्षामित्र है। विद्यालय 1836 का होने के कारण काफी जर्जर हो चुका है। जिसका कायाकल्प किया जाना अनिवार्य है। इस दौरान जिलाधिकारी ने कमरों का निरीक्षण कर कहा कि इन स्कूलों का कायाकल्प किया जाना जरूरी है। जिससे कि सुचारू रूप से बच्चों की पढ़ाई हो सके। यहां पर सफाई की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, उप जिला अधिकारी कर्वी पूजा यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजीव रंजन मिश्रा आदि संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.