महाप्रबंधक ने की संरक्षा, समयपालनता और योजना संबंधी मुद्दों की समीक्षा

प्रयागराज।महाप्रबंधक उत्तर मध्य रेलवे और पूर्वोत्तर रेलवे विनय कुमार त्रिपाठी ने उत्तर मध्य रेलवे पर संरक्षा विषयों एवं आगामी परियोजनाओं से संबंधित कार्यों की प्रगति पर चर्चा करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की। इस बैठक में उत्तर मध्य रेलवे के प्रमुख विभागाध्यक्ष और प्रयागराज, झांसी और आगरा मंडल के मंडल रेल प्रबंधक और मुख्यालय और मंडलों के अन्य अधिकारी शामिल हुए।बैठक के प्रारंभ में महाप्रबंधक ने सोमवार (०७/०६/२१) को उत्तर मध्य रेलवे में मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के १००फीसदी समयपालनता के लिए अधिकारियों को बधाई दी।सुरक्षा संबंधी मुद्दों की समीक्षा करते हुए, महाप्रबंधक ने कहा कि ट्रेन संचालन में सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों की नियमित काउंसलिंग और अपडेट किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करना अधिकारियों का कर्तव्य है कि रेलवे बोर्ड और मुख्यालय से प्राप्त निर्देश फील्ड स्टाफ तक पहुंचे और उन्हें ठीक से समझा जाए।महाप्रबंधक ने कहा कि अलार्म चेन पुलिंग के मामलों का गहन विश्लेषण किया जाए और इसके दुरूपयोग के मामले में केस दर्ज किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि ब्लॉक सेक्शनों में किसी अलार्म चेन पुलिंग की सूचना मिलने पर ट्रेन गार्ड, टीटीई, आरपीएफ एस्कॉर्ट सहित अन्य कर्मचारी सतर्क रहें और यदि कोई व्यक्ति उतरता हुआ दिखे तो मामले को गंभीरता से लेते हुए आवश्यक कार्रवाई की जाए।इसी क्रम में घाटमपुर में नवीन विद्युत संयंत्रों की आगामी परियोजनाओं एवं हरदुआगंज (अलीगढ़) में विद्युत संयंत्र के विस्तार पर चर्चा करते हुए महाप्रबंधक ने कहा कि सभी आवश्यक कार्यों में तेजी लाकर लक्ष्य का पालन किया जाये। त्रिपाठी ने इस बात पर भी बल दिया कि पेट्रोलियम की लोडिंग की सुविधा को प्रारंभ करने के लिए बीपीसीएल साइडिंग कानपुर में माडीफिकेशन कार्य की सघन निगरानी की जानी चाहिए और इसे जल्द से जल्द पूरा किया जाना चाहिए।महाप्रबंधक ने ऊंचडीह से मेजा थर्मल प्लांट तक विद्युतीकरण कार्य पूर्ण होने पर प्रयागराज मंडल को बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रयागराज मंडल को अब मेजा स्टेशन से भी बिजली संयंत्र को जोड़ने के काम पर ध्यान देना चाहिए।इसके अतिरिक्त बैठक में रेल दावा अधिकरण में लंबित मामलो में समय पर जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने, माननीय सांसदों और विधायकों से प्राप्त संदर्भों का त्वरित उत्तर प्रदान करने , रेलवे अस्पतालों के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने तथा वैक्सीनेशन संबंधी मुद्दों पर भी चर्चा की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.